कोरोना काल में कुछ इस तरह मनाये पृथ्वी दिवस(Earth dayspecial)

पृथ्वी दिवस मनाते तो हम हर साल ही हैं लेकिन इस साल हमें पृथ्वी दिवस मनाना ही नहीं है पृथ्वी को बचाना भी है। इस संकटकाल की स्थिति में हम कैसे घरों में रहकर कोरोना मुक्त पृथ्वी को बनाएं। कैसे हम इस संकट से उभरे, कैसे पर्यावरण को कोरोना मुक्त बनाएं।इस साल हमें खुद को और इस पृथ्वी को बचाना है। घरों में ही रहे घरों में ही पौधे लगाएं स्वच्छ वातावरण अपनाएं। इस संकटकाल की स्थिति से बचने के लिए ईश्वर से प्रार्थना करें। सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएं जरूरी हो तभी घर से निकले आसपास के वातावरण को स्वस्थ एवं स्वच्छ रखना हमारा कर्तव्य है। खुद को भी स्वच्छ रखें और आसपास के सभी जगह को भी स्वच्छ रखें। कोरोना काल में संकट भरी स्थिति से हमें लड़ना है और हमें पृथ्वी को बचाना है। खुद से ही संकल्प लें पृथ्वी को कोरोना मुक्त बनाएंगे।

पृथ्वी दिवस का महत्व(importance of Earth day 2020)

अर्थ डे या पृथ्वी दिवस एक तरह से पूरी दुनिया में एक साथ मनाया जाने वाला एक वार्षिक आयोजन है, जिसे पूरे विश्व में से 192 देश एक साथ 22 अप्रैल के दिन एक साथ मनाते है. इस दिन को सर्वप्रथम 1970 में मनाया गया था और फिर धीरे-धीरे एक नेटवर्क आगे बढ़ता गया और इसे विश्व स्तर पर कई देशों द्वारा स्वीकार कर मनाने का निर्णय लिया गया. साल 1969 में यूनेस्को द्वारा आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में 21 मार्च 1970 को इस दिन को प्रथम बार मनाने का निर्णय लिया गया, परंतु बाद में इसमें कुछ परिवर्तन किए गए और 22 अप्रैल के दिन इसे मनाने का निर्णय लिया गया. यह दिन मुख्य रूप से पुरे विश्व के पर्यावरण सम्बन्धी मुद्दों और कार्यक्रमों पर निर्भर रहता है, इस दिन का मुख्य उद्देश्य शुध्द हवा, पानी और पर्यावरण के लिए लोगों को प्रेरित करना है. पृथ्वी दिवस का इतिहास इसकी थीम और साल 2019 में इस दिन आयोजित होने वाली गतिविधियों के संबंध में जानकारी .

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s