मेरे सामाजिक आर्थिक राजनीतिक आध्यात्मिक गुरु माननीय नेता जी श्री घीसीलाल मालवीय जी के चरणों में उनके जन्मदिन पर समर्पित यह कविता

भारत मां के सच्चे लाल हो आप इछावर की धरती पर एक सपूत ने जन्म लियाअन्याय के विरुद्ध संघर्ष का उसने दृढ़ संकल्प लियाभगत जी गायक रामरतन के आंगन की किलकारी, मां राजल देवी की संतान हो आपरामपुरा का बढ़ा दिया गौरव, भारत मां के सच्चे लाल हो आप गरीबी की हर मार को देखा, …

Continue reading मेरे सामाजिक आर्थिक राजनीतिक आध्यात्मिक गुरु माननीय नेता जी श्री घीसीलाल मालवीय जी के चरणों में उनके जन्मदिन पर समर्पित यह कविता

Featured

माँ के प्यार और ममता से भरी दो अनमोल कहानियां। मदर्स डे स्पेशल (mother’s day special)

कहानी (1) एक मां ने अपने मानसिक रोगी बच्चे को बनाया महान व्यक्ति एक दिन थॉमस अल्वा एडिसन | Thomas Alva Edison स्कूल से अपने घर आया और स्कूल से मिले हुए हुए पेपर को अपनी माँ से देते हुए बोला की “माँ मेरे शिक्षक ने मुझे यह पत्र दिया है और कहा है की …

Continue reading माँ के प्यार और ममता से भरी दो अनमोल कहानियां। मदर्स डे स्पेशल (mother’s day special)

Featured

क्या आप जानते हैं ड्राई क्लीनिंग कैसे होती

कभी आपने सोचा है कि आखिर ड्राई क्लीनिंग के बारे में इंसान ने कैसे सोचा होगा? दरअसल इसके पीछे की कई कहानियों में से एक कहानी यह कई साल पहले पेट्रोल युक्त एक पदार्थ गलती से 1 गंदे चिकने कपड़े पर किसी के हाथ से फैल गया था। थोड़ी देर में पेट्रोल युक्त पदार्थ के …

Continue reading क्या आप जानते हैं ड्राई क्लीनिंग कैसे होती

चमकीले नीले पत्थर की कीमत | The price of bright blue stone

एक शहर में बहुत ही ज्ञानी प्रतापी साधु महाराज आये हुए थे, बहुत से दीन दुखी, परेशान लोग उनके पास उनकी कृपा दृष्टि पाने हेतु आने लगे. ऐसा ही एक दीन दुखी, गरीब आदमी उनके पास आया और साधु महाराज से बोला ‘ महाराज में बहुत ही गरीब हूँ, मेरे ऊपर कर्जा भी है, मैं …

Continue reading चमकीले नीले पत्थर की कीमत | The price of bright blue stone

आज ही क्यों नहीं ?एक प्रेरणादायक कहानी

एक बार की बात है कि एक शिष्य अपने गुरु का बहुत आदर-सम्मान किया करता था |गुरु भी अपने इस शिष्य से बहुत स्नेह करते थे लेकिन  वह शिष्य अपने अध्ययन के प्रति आलसी और स्वभाव से दीर्घसूत्री था |सदा स्वाध्याय से दूर भागने की कोशिश  करता तथा आज के काम को कल के लिए छोड़ दिया करता …

Continue reading आज ही क्यों नहीं ?एक प्रेरणादायक कहानी

लकड़ी का कटोरा(एक प्रेरणादायक कहानी)

एक वृद्ध व्यक्ति अपने बहु – बेटे के यहाँ शहर रहने गया। उम्र के इस पड़ाव पर वह अत्यंत कमजोर हो चुका था, उसके हाथ कांपते थे और दिखाई भी कम देता था। वो एक छोटे से घर में रहते थे, पूरा परिवार और उसका चार वर्षीया पोता एक साथ डिनर टेबल पर खाना खाते …

Continue reading लकड़ी का कटोरा(एक प्रेरणादायक कहानी)

नौकरीपेशा विवाहित युवतियों के लिए क्या अधिक व्यावहारिक, एकल परिवार अथवा संयुक्त परिवार?

एकल परिवार में रहने वाले एक दंपति की जद्दोजहद की एक बानगी: कल ही हमारी कॉलोनी के क्लब में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम था । प्रोग्राम शुरू हो चुका था लेकिन मेरी बेस्ट फ्रेंड आशिमा का कहीं अता-पता नहीं था। कुछ देर बाद वह बेहद हैरान परेशान मन: स्थिति में, अस्त-व्यस्त वेशभूषा में, अपने 2 वर्षीय …

Continue reading नौकरीपेशा विवाहित युवतियों के लिए क्या अधिक व्यावहारिक, एकल परिवार अथवा संयुक्त परिवार?